जुनून ए जन्नत

शहर भी है और है जहन्नम भी
देखना अब ये है के बचता है
आगबबुले धुएँका टावर,
माडर्न एजकी लिपीपुतीसी फर्माईशे
या तेरा जुनून ए जन्नत

अगर ना भी बचा तो कोई बात नहीं
बस एक और बढ जायेगा जिस्मोंके ढेर में
जब लाखो घूम रही है बिना रूहके
तब एक और के मंडरानेसे और क्या

फिर देखना ये होगा के
और आये कोई राह-ए-जुनून-ए-जन्नत का मुसाफिर
फिर शायद वो भी ना टिक पाए
इस जिस्मोंके दरिया में

पर ये जरूर हो के
चलता रहे ये सिलसिला
के कोई तो हो
जिसे हो जुनून जन्नत का
और हो शिद्दत उसे पाने की
आखिर कोई तो जिस्मोंको इत्तला करे आनेवाले कल के बारे में

के अगर ये ना हो तो जो होगा
वो बताने के मै काबिल नही
ये तो बिलकुल तय है के
आनेवाले कल में कुछ ऐसी बात है
जो खाली जिस्मोंके पल्ले पडनेवाली नही

कोई तो चाहिये जिसके दिल में हो दो बूंदे ज्यादा
लहू के साथ थोडे प्यार की
जो सोचे समझे के इन्सान का होना
मशिनोंसे ज्यादा जरूरी है; ना के उलटा
जिस्में तो सुलझती बिगडती रहती है
पर उसका दिल, उसकी आंखे और उसका दिमाग
सुलझा रहे हमेशा

फिर राहे बनती जाए जन्नत तक
खाली जिस्मोंके लिये भी, जन्नत तक
तेरा जुनून-ए-जन्नत कुछ इस तरह मुकम्मल हो…

 

 

While the expression here is exclusively mine; the language here has been edited, cleaned and refined by my dear friend Tanveer Siddiqui. It is so good to have friends who are creatively on the same page that I am on… 🙂
आल्हाद महाबळ

Advertisements

4 thoughts on “जुनून ए जन्नत”

  1. “ये तो बिलकुल तय है के
    आनेवाले कल में कुछ ऐसी बात है
    जो खाली जिस्मोंके पल्ले पडनेवाली नही”

    आल्हाद,
    मन आणि शरीर एकच आहेत की त्यांचा वेगवेगळा कार्यकारण भाव आहे या वादात नकोच जाऊयात पण मनाचा आवेग बऱ्याच वेळा शरिरी कक्षेला मानवत नाही म्हणूनच तर हे घोळ होतात नं?

    तुझ्या मनातली आंदोलनं छानच आहेत त्याहीपेक्षा ते शब्दांत उतरवण्याचं कसब 🙂 कीप इट अप

प्रतिक्रिया व्यक्त करा

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out / बदला )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out / बदला )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out / बदला )

Google+ photo

You are commenting using your Google+ account. Log Out / बदला )

Connecting to %s